Shakespeare BIO-quotes ON LIFE IN hindi

लेखक:गुड्डू राय

Shakespeare BIO-quotes ON LIFE IN hindi. इस पोस्ट में हम जानेंगे कि विलियम शेक्सपिअर की जीवनी के बारे में| जिसमे हम Shakespeare BIO-quotes ON LIFE IN hindi से जूरी कुछ रोमांचक बातो को उजागर करेंगे| जानेंगे की की तरह विश्व के महापुरुषों में उन्होंने अपना नाम अर्जित किया| उन्होंने अपने जीवन में किन किन कठिनाइयों का सामना करना परा आज हम इस पोस्ट में साडी जानकरी आपसे साझा करेंगे| अगर आप Shakespeare के बारे में जानना चाहते है तो इस पोस्ट को अंत तक पढ़े|
 विलियम शेक्सपियर इंग्लैण्ड जके नागरिक थे, वे 16 वी सदी के महान कवि,नाटककार और अभीनेता थे,जिन्होंने अपने कार्य से पुरे विश्व में अपना पंचम फैराया| आपने अपने जीवन में कभी न कभी विलियम शेक्सपिअर के बारे में जरुर सुना होगा चाहे वह नाटक के रूप  में हो या फिर उनके द्वारा लिखित नाटको द्वरा| आज भी हमे कोलेजो में उनके नाटको को पढाया जाटा है| ये भी पढ़े: भगत सिंह की जीवनी
अंग्रेजी भषा के महान लेखो में इनका नाम सर्वोपरी है| इन्हें अंग्रेजी भाषा में महारत हाशिल थी इसलिए इन्हें इंग्लैण्ड का राष्ट्रीय कवि भी कहा जाता है,इन्हें  “बार्ड ऑफ़ एवन” के नाम से भी जाना जाता है| अपने जीवन काल में इन्होने 38 नाटक,154 सनेट्स, व 2 लंबी कथा एवं कविता अआदी की रचना की| इनके कई रचनए ऐसे है की इन्हें विश्व के सभी भाषाओ में अनुवादित किया गया है|इनके जन्म दिवस को अंग्रेजी भाषा दिवस के रूप में भी मनाया जाता है| इन्होने अपने लेखनी के माध्यम से लगभग 1500 नए शब्दों को उजागर किया|
Shakespeare BIO-quotes ON LIFE IN hindi

विलियम सेक्सपिअर का जीवन परिचय(BIOGRAPHY OF WILLIAM SHEKSPEAR):

नाम(NAME)

विलियम शेक्सपियर

माता का नाम (MOTHER NAME)

मैरी शक्सपियर

पिता का नाम (FATHER NAME)

जॉन शेक्सपियर   

जन्म(BIRTH)

26 अप्रैल 1564

जन्म स्थान(BIRTH PLACE)

इंग्लॅण्ड,स्टेटफोर्ड अपौन-एवन

पत्नी का नाम(WIFES NAME)

ऐनी हथावे

पेशा (OCCUPATION)

नाटक कर, अभिनेता  

राष्ट्रीयता

ब्रिटिश

प्रसिधी

महान लेखक

बच्चे

सुसंना हॉल ,हेम्नेट शेक्पियर,जूडिथ कुईन

मृत्यु

23 अप्रैल 1616

शेक्स पियर का आरंभिक जीवन:

इस महान शक्शियत का जन्म 26 अप्रैल 1564 को इंग्लैण्ड देश के Warwickshire में स्ट्रेटफोर्ड अपॉन एवन शहर म हुआ था| वैसे तो कई लोगो के मुताबिक इनका जन्म दिवस 23 अप्रैल को भी मनाया जाता है अतः इनके जन्मदिन के उपर काफी लोगो में मतभेद है| इनके पिता का नाम जॉन शेक्सपियर एक सफल व्यापारी थे| ब्रिटिश सरकार के आला अधिकारियो से अच्छे जान पहचान होने के कारन उन्हें 1569 में स्ट्रेटफोर्ड की सरकार द्वारा उन्हें मेयर के पद से नवाजा गया| इनकी माता का नाम मर्री शेक्सपियर थी जो एक जमींदार की बेटी थी| विलियम की माता पिता के 8 संताने थी जिनमे विलियम 3सरे थे,परन्तु पहले बेटे थे अर्थात उनके पहले 2 बेटिया थी|उन्होंने  स्ट्रेटफोर्ड ग्रामर स्कूल से अपनी पढाई की सुरुवाती शिक्षा ली और लैटिन ग्रामर एवं साहित्य का अध्ययन किया| ये भी पढ़े:भीमराव आंबेडकर जयंती

शेक्सपियर का मध्यकालीन जीवन:

विलियम शेक्सपियर का विवाह एनी हथावे क साथ कर दिया गया| विलियम मात्र 18 वर्ष के थे उस वक्त एवं एनी 26 वर्ष की थी| विलियम सड़के 6 महीने बाद ही पिता बन गए थे उनके घर एक बेटी ने जन्म लिया था जिनका नाम सुसना रखा गया| शेक्सपियर के तिन बच्चे थे| कई लोगो का एसा अनुमान है की विल्लियम बैशेक्सुअल थे, उनके सदी के बाद भी उनके जीवन से जूरी काफी दुर्लभ जानकारी मिलती है| परन्तु उन्होंने अपना ज्यादा फोकस अपनी लेखनी और अपने नाटक में ही रखी|

कलाकार और नाट्य क रूप में विलियम का उभारना:

इतिहाश कारो के अनुसार विलियम ने नाटको के रुप में अपना करियर 1585  के दौरान शुरू किया था| लेकिन अन्क्रो के अनुसार शेक्सपियर ने 1592  में लन्दन में अपने करियर की शुरुवात किआ था| जैसे जैसे शेक्पियर प्रसिद्ध होते गए वैसे वैसे उनके आलोचकों ने भी जन्म लेना शुरू हो गए| एसा कहा जाता है की रॉबर्ट ग्रीन,शेक्सपियर के पहले आलोचक थे|
सन्न 1594 के बाद से शेक्सपियर के सभी नाटको को चेम्बर्लेन के लोगो द्वारा प्रदर्शित किया गया| शेक्सपियर के प्रदर्शन के कारन यह ग्रुप बहुत थोरे ही समय में बहुत अधिक उन्चैयो तक पहुच गया| इस ग्रुप को काफी बहुत अधिक प्रसिधि मिली| इससे प्रेरित होकर विलियम शेक्सपियर ने अपना खुद का थियेटर 1599 में कह्रिदाजिसका नाम उन्होंने ग्लोब रखा|
धीर धीरे शेक्पियर प्रसिद्द होते गए| अभिनेता के रूप में उन्हें लोगो ने खूब पसंद किया| उनका ब्रांड इस कदर्बध चूका था की उनके नाम से ही सरे टिकट बिक जाते थे| शेक्पियर ने स्वयं के लिख नाटको में अभिनय तो किया ही लेकिन उन्होंने दुसरो के द्वारा लिखित नाटको में भी खुल कर अभिनय किया जो है  ‘‘एव्री मेन इन हिज हुमौर’, ‘सेजनस हिज फॉल’, ‘दी फर्स्ट फोलियो’, ‘एस यू लाइक इट’, ‘हैमलेट’ और ‘हेनरी 6’’ हैं |17 सताब्दी के उरुवती दौर नमे शेक्सपियर अपने करियर के  पिक में था| उन्होंने लगभग 37 नाटक अपने हाथो से लिख जिनमे 15 प्रकाशित हुए|
अपने सफलताओ से उन्ह जितने धन अर्जित हुए थे उनसे वे एक विशाल हवेली खरीदी जिनकानाम उन्होंने न्यू हॉउस रखा| धीरे धीरे विलियम ने जगह जगह पर इन्वेस्ट करना शुरू किया और एक प्रसिद्ध व्यक्ति के साथ साथ एक प्रसिद्द व्यापरी भी बन गए| लेकिन शुरू से ही उनका फोकस नाटक में था और इसी तरह उनका करियर चलता गया | ये भी पढ़े:all-hindi-bloggers-list

विलियम शेक्सपियर की मृत्यु:

1613 में में स्ट्रेटफोर्ड से रिटायर होने के बाद अपने जन्म दिवस के 3 दिन पहले 23 अप्रैल 1616 में उनकी मृत्यु हो गई | उनके कब्र पर उ नकी याद के रूप में लिखा गया था की ”गुड फ्रेंड फॉर जीसस”| शेक्षिप्यर के कार्यो को उआद करते हुए पुरे विश्व में जगह जगह पर उनके मानने वालो के अनुसार उनकी मूर्ति बने गई| उन्हें यद् करते हुए उनके कवियों को कालेजो में उन्हें डाला गया|  एसा कहना गलत नही होगा की शेक्सपियर एक बहुमुखी प्रतिभा के धनि थे|

Shakespeare quotes ON LIFE:

शेक्ष्पियर एक बहुमुखी प्रतिभा के धनि थे| उन्होंने अपोनी लेखनी के माध्यम से हमे अनेक प्ररित किया| उनकी लेखनी ने अकियो को अपने अँधेरी जिंदगी से निकलने में मदद की  है| SHEKSPEAR  quotes ON LIFE क कुछ कोट्स निम्नलिखित है:
1.हम जानते हैं कि हम क्या हैं, लेकिन जानते हैं कि हम क्या हो सकते हैं।
“We know what we are, but know not what we may be”
2.कुछ महान पैदा होते हैं, कुछ महानता को प्राप्त करते हैं, और कुछ में महानता होती है।
“Some are born great, some achieve greatness, and some have greatness thrust upon them.
3.दुनिया के सभी चरण, और सभी पुरुष और महिलाएं केवल खिलाड़ी हैं: उनके पास उनके निकास और प्रवेश द्वार हैं; और एक आदमी अपने समय में कई भाग खेलता है, उसके कृत्यों में सात युग होते हैं।
“All the world’s a stage, and all the men and women merely players: they have their exits and their entrances; and one man in his time plays many parts, his acts being seven ages”
4. एक मूर्ख खुद को बुद्धिमान समझता है, लेकिन एक बुद्धिमान व्यक्ति खुद को मूर्ख समझता है।
“A fool thinks himself to be wise, but a wise man knows himself to be a fool.”
5.यह हमारे भाग्य को धारण करने के लिए सितारों में नहीं, बल्कि स्वयं में है
“It is not in the stars to hold our destiny but in ourselves”
6.कुछ भी अच्छा या बुरा नहीं है, लेकिन सोच ऐसा बनाती है
“There is nothing either good or bad but thinking makes it so”
7.पुरुषों के मामलों में एक ज्वार है, जो बाढ़ में लिया जाता है, भाग्य की ओर जाता है। स्वीकार किया, उनके जीवन की सभी यात्रा उथले और दुख में बंधी है। इस तरह के पूर्ण समुद्र पर अब हम हैं। और जब हमें सेवा करनी हो या अपना उद्यम खोना हो, तो हमें वर्तमान को लेना चाहिए
”There is a tide in the affairs of men, Which taken at the flood, leads on to fortune. Omitted, all the voyage of their life is bound in shallows and in miseries. On such a full sea are we now afloat. And we must take the current when it serves, or lose our ventures”
8.नर्क खाली है और सभी शैतान यहां हैं
”Hell is empty and all the devils are here”
9.उनकी मृत्यु से पहले कई बार कायर मर जाते हैं; बहादुर केवल एक बार ही मरता है।
”Cowards die many times before their deaths; the valiant never taste of death but once”
 
10 भगवान ने आपको एक चेहरा दिया है, और आप अपने आप को एक और बनाते हैं।
 
”God has given you one face, and you make yourself another”

Shakespeare BIO-quotes ON LIFE IN hindi के कुछ अंतिम शब्द:

हम इस पोस्ट Shakespeare BIO-quotes ON LIFE IN hindi जिसमे हमने शेक्सपियर के जिंदगी से जूरी हर एक जानकारी आपसे साझा की है,जिसमे हम अपने पाठको को सारी जानकरी देने की कोशिश की है जिससे हमारे प्तःको क किसी दुरे आर्टिकल में जाने की जरुरत न हो| अगर आपलोग Shakespeare BIO-quotes ON LIFE IN hindi से जूरी साडी जानकारी जानने की कोशिश की है तो उः पोस्ट आपके लिए है|

अगर आपको हमारे पोस्ट अच्छा लगा तो कृपया इसे फेसबुक इंस्टाग्रामटि्वटर लिंकडइन व्हाट्सएप में शेयर जरूर करें एवं अगर आप किसी प्रकार का सुझाव हमें देना चाहते हैं तो कमेंट बॉक्स में कमेंट जरुर करें

यदि आप hindimetrnd.in के साथ जुड़ना चाहते हैं तो कृपया हमारे फेसबुक पेज को लाइक करना ना भूलें hindimetrnd/facebookpage

धन्यवाद

Leave a Comment