HISTORY OF VALENTINE DAY IN HINDI 2023

लेखक : गुड्डू राय 

 

VALENTINE DAY क्यों मनाया जाता है? 14 फ़रवरी का इतिहास क्या है?

HISTORY OF VALENTINE DAY IN HINDI 2021

 

 
 
क्या आप जानना चाहते है की VALENTINE DAY क्यों मनाया जाता है? वैलेंटाइन दिवस का इतिहास क्या है तो यह पोस्ट आपके लिए है?
 
हमारा देश में हर तबके के लोग रहते है और हम एक दूसरे के सुख दुःख में हर समय मौजूद रहते है| हम हर एक त्यौहार साथं मानते है चाहे वह दीपावली हो, ईद हो या होली या फिर दसहरा हम सभी एक दुसरे के साथ सारिख होते है |
 
भारत में जितने भी त्यौहार मनाई जाति है उन सब के पीछे एक सच्ची कहानी होती है,जो इतिहास की पन्नो को टटोलने से हमें मिल जाती है,यूँ तो हम VALENTINE DAY को बहुत खुश होकर मानते है लेकिन सच कहे और इतिहास के पन्नो को खोल कर देखे तो ये एक खुसी नहीं बल्कि एक बलिदान का दिवस है,जिन्हें VALENTINE DAY की कहानी पता है उन सभी को पता होगा की 14 फ़रवरी को किसी ने अपनी जिंदगी की आहुति दी थी और इतिहास के पन्नो में वह बलिदान लिख दिया गया|

 

VALENTINE DAY का इतिहास क्या है?:(HISTORY OF VALENTINE DAY):

वैलेंटाइन दिवस किसी दिन के नाम पर नहीं बल्कि एक व्यक्ति के नाम पर रखा  गया है जिनका नाम VALENTINE है,वह एक पादरी यानि संत(PRIEST) थे| 
 
इस कहानी की शुरुवात तीसरी सदी में रोम शहर से होती है,जहा एक राजा हुआ करता था जिनका नाम CLOUDIUS था| यह राजा खुद को बहुत शक्तिशाली बनाना चाहता था और पुरे विश्व में अपना प्रभाव(स्थापत्य ) हासिल करना चाहता था| शाशक के मन में बहुत बरी सेना बनाने की इच्छा जगी, और उसने सारे सैनिको को युद्ध के लिए तैयारी करने को कहा और उसने देखा की जो सैनिक पारिवारिक थे वे या तो अपने परिवार के बारे में सोचते थे, उनका ध्यान युद्ध की तैयारी पे ना होकर अपने बीवी बच्चो की तरफ ज्यादा था| और जो सैनिको के परिवार नहीं थे वे लोग अच्छी तरह से तैयारी करते थे| परन्तु राज्य के ज्यादातर पुरुष सैनिक में शामिल नहीं होना चाहते थे| 
 
जब राजा CLOUDIUS ने यह देखा की जिन सैनिको के परिवार नहीं थे उनके अन्दर युद्ध की अलग स्फूर्ति थी अतः राजा ने पुरे राज्य में यह घोषणा किया की,भविष्य में राज्य का कोई भी पुरुष विवाह नहीं करेगा| सभी पुरुष पारिवारिक खुसी से वंचित रहेंगे,उन्होंने सभी तरह के विवाहों पर प्रतिबन्ध लगा दिया|
 
यह बात राज्य  के लोगो को पसंद नहीं आया लेकिन अपने शशक के घोषणा के सामने सब मजबूर थे| राजा ने यह घोषणा किया  की इस आदेश का उलंघन जो भी करेगा उसे करी से करी सजा दी जाएगी|उनकी इस घोषणा से राज्य के सभी सिपाही परेशान हो गए|
 
संत वैलेंटाइन को जब यह बात पता चली तो उन्होंने इस पूरी घटना का खंडन करने का सोचा | पादरी VALENTINE चर्च में रहते थे और राज्य के सभी सिपाही जिन्हें विवाह के बंधन में बंधना था वो सभी अपने प्रेमिकाओ के साथ VALENTINE के पास मदद मांगने जाते और पादरी वैलेंटाइन उन दोनों का विवाह चुप-चाप एक बंद कमरे में करवा देते थे| धीरे-धीरे पादरी वैलेंटाइन ने अपने शाशक के विरोध में जाकर कई सारे सिपाहियों का विवाह करवा दीया| 
 
लेकिन सच ज्यादा दिनों तक नहीं छुपता,किसी न किसी दिन वह सबके सामने आ ही जाता है,ठीक उसी तरह VALENTINE की यह बात राजा CLOUDIUS को पता चल गई ओर उन्होने पादरी वैलेंटाइन को कैद कर लिया,और सजा-ए-मौत की सजा सुनाई|
 
जब VALENTINE कैद थे तब उनसे बहुत लोग मिलने आते और उन्हें गुलाब गिफ्ट में देते थे,वे सभी लोग उन्हें बताना चाहते थे की वे लोग प्यार में विस्वास करते है|
 
VALENTINE जेल के अन्दर अपनी मौत का इंतजार कर रहे थे, उस जेल का जेलर जिनका नाम ASTERIUS था वह वैलेंटाइन के पास गया| उनकी एक अंधी बेटी थी जिसकी मदद की गुहार उसने VALENTINE से लगाया|
 
रोम के लोगो का यह मानना था की VALENTINE के पास एक दिव्य शक्ति है,जिसकी मदद से उन्होंने ASTERIUS की अंधी बेटी को ठीक कर दिया|
 
VALENTINE एक नेक दिल इन्सान थे| धीरे-धीरे ASTERIUS कि बेटी और वैलेंटाइन के बिच गहरी दोस्ती हो गई और यह दोस्ती प्यार में बदलने में देर नहीं लगी| दोनों एक दुसरे से प्रेम करने लगे| जब ASTERIUS की बेटी को VALENTINE की मौत की बात पता चली तो उनको गहरा सदमा लगा| 
 
आख़िरकार 14 फरवरी का वह दिन आ ही गया जिस दिन वैलेंटाइन को फांसी लगने वाली थी|
 
14 फरवरी 269 A.D को अपनी मौत से पहले VALENTINE ने एक कागज और कलम माँगा और जेलर की बेटी के नाम एक अलविदा संदेस लिखा जिसके अंत में लिखा हुआ था तुम्हारा VALENTINE(YOUR’S VALENTINE)  यह वो लब्ज है जिसका इस्तेमाल आज भी किया जाता है|
 
VALENTINE के वलिदान के रूप में 14 फरवरी को पूरी दुनिया में VALENTINE दिवस मनाया जाता है और एक दुसरे के साथ प्यार बांटते है|
 
इस दिन को सभी प्यार करने वाले अपने प्रेमी प्रेमिका को फुल,चोकलेट और तरह तरह के तोहफे देकर अपने प्यार का इजहार करते है| 

Read more

DHRMA CHAKRA PARIVARTAN DIWAS 2023 (धर्मं चक्र परिवर्तन दिवस|)

 लेखक:गुड्डू राय What is dharma chakra Paravartan divas दोस्तों आज हमलोग बात करेंगे DHRMA CHAKRA PARIVARTAN DIWAS के बारे में| क्या है धर्मं चक्र परिवर्तन? किसने सुरुवात की धर्मं चक्र परिवर्तन की ? धर्मं चक्र परिवर्तन दिवस(Dharma Chakkra Parivartan Diwas): धर्मं चक्र परिवर्तन दिवस बौध समुदाय में खासतौर में मनाया जाता है| हमारे देश के … Read more

गुरु गोबिंद सिंह जयंती(GURU GOBIND SINGH JAYANTI) जाने कुछ रोचक तथ्य

लेखक :मोनू शर्मा राय हमलोग आज महान योद्धा गुरु गोबिंद सिंह जयंती के बारे में जानेगे देखेंगे की उसके जीवन के कुछ रोचक तथ्यों का उजागर करेंगे,जिससे उनके बारे में कुछ जरुरी चीजे जन सके और कुछ सिख सके| गुरु गोबिंद सिंह जी  सीखो के 10 वे गुरु थे| उनके पहले गोबिंद सिंह के पिता … Read more

विश्व स्वास्थ्य दिवस के मौके पर जाने कुछ रोचक तथ्य?|WORLD HEALTH DAY 7 APRIL,QUOTES,MASSEGES,HEALTHY LIFE STYLE

लेखक: गुड्डू राय स्वास्थ्य एक एसी सम्पति है जससे दुनिया की हर चीज को हासिल करने में मदद मिलती है, चाहे अआप कितने भी आमिर हो या कितने भी गरीब स्वस्थ रहना हमारा अहम् जिम्मेदारी होनी चाहिए| हमारे प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी हमेसा से फिट इंडिया मूवमेंट(FIT INDIA MOVMENT) को प्रोत्साहित करते हुए … Read more