GAUTAM GAMBHIR BIOGRAPHY 2021/ जाने 2021 में?

लेखक :गुड्डू राय

दोस्तों गुतम गंभीर जी हां ये एक एसा खिलारी है, जिसके बारे में उतनी बाते नहीं की जाती है,जितनी उसने भारत क्रिकेट को दिया है, जी हा दोस्तों 2011 वर्ल्ड कप में उनका एक एहम योगदान था,जिनके कारन टीम भारत जित के करीब पहुचने में कामयाब हो सका|उनकी 97 रन की पारी को उतना recognise नहीं किआ जाता है|इसीलिए उन्हें gautam gambhir the un recognised heo of world cup 2011 कहा जाता है|

गौतम गम्भीर कौन है?(who is gautam gambhir)

गौतम गंभीर का जन्म दिल्ली के एक उच्चस्तरीय परिवार में 14 अक्टूबर 1981 को  हुआ था,उनकी माता का नाम सीमा गंभीर और पिता दीपक गंभीर के घर में हुआ था,जो एक कपरे के व्यापारी थे,और माता एक गृहणी(house wife) थी| गौतम गंभीर की बहन है जिनका नाम एकता गंभीर है जो उससे दो साल छोटी है| गौतम गंभीर को उनके जन्म के 18 दिन बाद उनके दादा जी और दादी माँ ने अपना लिया उसके बाद से वह अपने दादा दादी के साथ ही डेल्ही में बस गए|

  

गंभीर ने 10 वर्ष की आयु में क्रिकेट खेलना प्रारंभ किआ था|उनकी सुरुवाती पढाई MODERN SCHOOL,NEW DELHI से हुई जबकि उनकी ग्रेजुएशन HINDU COLLAGE,UNIVERCITY OF DELHI से हुई| गंभीर अपने मामा के घर पवन गुलाटी के घर रहते थे 90,S के सुरुवाती दिनों में, गुलाटी उसके मेंटर भी थे और गंभीर के IMPRORTANT मैच देखने जाया करते थे|

गंभीर को संजय भरद्वाज नमक कोच ने उनकी सुरुवाती कैरिअर में,लाल बहादुर स्टेडियम,नई दिल्ली में उन्हें कोचिंग दी,गंभीर को पहली बार में ही नेशनल क्रिकेट अकादमी,बेंगोर में चुना गया सन 2000 में| 2011 में गंभीर ने नताशा जैन जो एक बिसिनेसमैन की फैमिली से ताल्लुक रखती थी,उसने सदी कर ली|

 ये भी पढ़े:

who-is-ruturaj-gaikwad-facts stats bio-of

National-girl-child-day

गौतम गंभीर का क्रिकेट कैरिअर(CRICKET CARIAR OF GAUTAM GAMBHIR):

गौतम गंभीर एक लेफ्ट हैंडेड ओपनिंग बैट्समैन थे, उन्होंने दिल्ली के लिए डोमेस्टिक क्रिकेट खेली और आईपीएल में दिल्ली डिअर डेविल और कोलकाता नाईट राइडर की कप्तानी भी की|उसने अपनी अंतरास्ट्रीय  एकदिवसीय(ODI) कैरिअरकी सुरुवात 2003 में बंगलादेश के बिरुद्ध किआ था| और उसी बर्ष उसने ओस्ट्रेलिया के विरुद्ध टेस्ट कैरिअर की सुरुवात की|उनको भारत टीम की कप्तानी करने का मौका भी मिला लेट 2010-2011 में| 6 मैच की कप्तानी में उन्हें सारे मैच में जित मिली|

 गौतम ने अपनी मोस्ट वैल्युएबल इनिंग्स ICC के 2007 टी-20 वर्ल्ड कप फाइनल (75रन,54गेंद) और ODI वर्ल्ड कप 2011(97 रन,122गेंद) में खेली थी| गौतम गंभीर के कप्तानी में ही कोलकाता नाईट राइडर्स ने आईपीएल का ख़िताब पहली बार 2012 में जीता था और दूसरी बार 2014 में जीता था|

गौतम भारत का पहला एसा प्लेयर है,जिन्होंने 5 लगातार टेस्ट मैच में 5 सतक मारा था| उन्होंने लगातार  4 टेस्ट मैच में 300 रन करने वाले पहले भारतीय बने थे| अंतरास्ट्रीय टी-20 2018 में 6thभारतीय खिलारी थे जिन्होंने सबसे ज्यादा रन बनाया था|

भारत के खेल जगत का सबसे बार पुरुस्कार अर्जुन पुरष्कार भी उन्हें 2008 में भारतीय राष्ट्रपति के द्वारा मिला था| सन्न 2009 में वह ICC के NO1 टेस्ट प्लेयर की रैंकिंग में पहले पायदान पे थे|

इसी साल 2009 में उन्हें ICCटेस्ट प्लेयर ऑफ़ द इयर से नवाजा गया था| सन्न 2019 में गौतम गंभीर को पद्म श्री पुरष्कार से नवाजा गया था| दिसम्बर 2019 में उन्होंने क्रिकेट को अलविदा कह दिया|

NATIONAL SIDE: INDIA(2003-2018)

NICK NAME: GAUTI

TEST DEBUT: 3RD NOVEMBER 2003 VS AUSTRALIA

CAP NO:249

ODI DEBUT:11 APRIL 2003 VS BANGLADESH

LAST ODI:27 JANUARY 2013 VS ENGLAND

ODI SHIRT NO:5

ODI CAP: 149

T-20 INT DEBUT:13 SEPT 2007 VS SCOOTLAND

T-20 INT CAP:12

LAST T-20 INT:28 DEC 2012 VS PAKISTAN

 SOME STATS ABOUT GAUTAM GAMBHIR:

                                                      TSET                        ODI                T-20(INT)

MATCHES:                                      58                          147                 37

RUN SCRED:                                4154                       5238                 932

BATTING AVERAGE:                 41.95                      39.68                 27.41

100S/50S                                          9/22                       11/34                 0/7

TOP SCORE:                                    206                       150*                   75

CATCHES:                                         38                         36                    11

 

DOMESTIC CAREER OF GAUTAM GAMBHIR

2008 में गौतम गंभीर की सुरुवात बहुत अच्छी हुई, घर में खेलते हुए उन्होंने 130 नाबाद रन बनाए रणजी ट्रोफी के फाइनल खेलते हुए दिल्ली ने उत्तरप्रदेश की टीम को 9 विकेट से शिकस्त दिया था

 

INDIAN PREMIAR LEAGUE CAREER OF GAUTAM GAMBHIR

गंभीर को आईपीएल के प्रथम एडिशन में DELHI DAREDEVILS के द्वारा आईपीएल के औक्सन में ख़रीदा गया पहला प्लेयर था जिसकी कीमत US$725,000 प्रति वर्ष के लिए ख़रीदा था| वह आईपीएल के प्रथम एडिशन में गौतम गंभीर second highest run-scorer बने थे उन्होंने  534 runs 14 matches में बनाया था 2008 के आईपीएल में|, टीम उनकी परफॉरमेंस से खुश होकर 2010के आईपीएल में उनको डेल्ही दरेदेविल का कप्तानी दे दिया गया|  At the end of the tournament के अंत में गौतम एकमात्र खिलारी थे जिन्होंने DELHI DAREDEVILS के तरफ से 1000 रन बनाए थे|

2011 के आईपीएल के ऑक्शन में गंभीर को सबसे ज्यादा पैसा में खरीदनेवाला खिलारी बना था, $2.4 million रुपया में कोलकाता नाईट राइडर्स के तरफ से खरीदा गया था, एसा कर के आईपीएल के इतिहास का सबसे महंगा खिलारी बन गया था| और गौतम को कप्तान भी घोषित किआ गया|

गंभीर के कप्तानी के अन्दर ही KKRटीम ने आईपीएल पहली बार आईपीएल के प्लेऑफ में क्वालीफाई करने में सक्षम हुई| और उसी वर्ष KKR की टीम ने चैंपियन लीग टी20 में पहली बार क्वालीफाई हुई|गौतम गंभीर ने 2012 में KKR टीम की कप्तानी की और डिफेडिंग चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स को हराकर पहली बार आईपीएल की ट्रोफी 5 विकेट से जीती| उसी साल गौतम KKR के तरफ से सबसे ज्यादा रन करने वाले खिलारी बने 2012 के|

उसी वर्ष खेलते हुए उन्होंने 6 अर्ध सतक लगाए एवं कुल 8 अर्ध सतक लगा के आईपीएल में सबसे पहले 2000 रन करने वाले पहले खिलारी बने|  उन्ही के कप्तानी में KKR ने 2014 में किंग्स 11 पंजाब को हराकर आईपीएल का दूसरा ख़िताब  KKR को 3 विकेट से जिताया | उन्होंने अपनी कप्तानी में 2016 एवं 2017 में KKR को प्लेऑफ में क्वालीफाई करवाया| और उस सीजन के highest run-scorer बने |.

27 जनवारी 2018 के आईपीएल ऑक्शन में उन्हें डेल्ही डिअर डेविल की टीम ने  2.8 crore में ख़रीदा और गौतम को दिल्ली कप्तानी दिया गया| औक्सन के पश्चात KKR  टीम के CEO VENKY MYSORE ने ANOUNCE किआ की गौतम गंभीर ने उन्हें कहा था की KKR की टीम use RETAIN ना करे क्यूंकि वो डेल्ही के तरफ स खेलते हुए अपने आईपीएल करियर को समाप्त करना चाहते थे |  लेकिन उस वर्ष ख्रराब फॉर्म के कारन गौतम ने अपना कप्तानी छोर के श्रेयस आइयर को कप्तानी सौप दी|

International career Of Gautam Gambhir

Early career

गंभीर ने लगातार 2 डबल सतक लगाया 2002 में,ज़िबावे के खिलाफ लगाया था| और उसी सतक ने गौतम को एक ओपनिंग बेट्समेन के रूप में उभरा|उसने अपना ODIडेब्यू बांग्लादेश के खिलाफ TVS CUP2003 में तीसरे एकदिवसीय मैच में किआ था,जिसमे उन्होंने 71 रन किआ था और मैन ऑफ़ द मैच दिया गया था| उसने अपना पहला सतक श्रीलंका के विरुद्ध किआ था जिसमे न्होंने 103 रन किए थे 97गेंदों मे 2005 में| उसने 2004 में अपना टेस्ट डेब्यू आस्ट्रेलिया के विरुद्ध अंतिम(4th) तटेस्ट में किआ |, गौतम का पहला टेस्ट सतक बांग्लादेश के विरुद्ध 2004 में किआ था | गंभीर ने 2005 में पकिस्तान के विरुद्ध घरेलु सीरीज में उन्हें startमिला लेकिन 1 ही अर्ध्सतक में तब्दील करने में सफल हुए| उसमे 2005में जिम्बावे की खिलाफ 97 रनों की की पारी खेली लेकिन अगल सीरीज श्रीलंका के खिलाफ 30 रन भी न कर सके और उन्हें वसीम जाफर के द्वारा तब्दील कर दिया गया,जिसने 1 दोहरा सतक और 1 सतक 7 टेस्ट आतच की श्रीएस में मारा| |

जब गंभीर टीम भारत के टेस्ट टीम से अलग थे तब उन्होंने कई सरे एकदिवसीय श्रीन्खला भारत के तरफ से खेला 2005-2007 के बिच|फिर भी उन्हें 2007 ODI वर्ल्ड कप के लिए सेलेक्ट नहीं किआ गया| और जब उन्हें वर्ल्ड कप की टीम से हटाया गया ये बात उन्हें बुरी तरह से दुखी किआ और उन्होंने ये कहा था की उन्हें लगता था ‘’अब उन्हें क्रिकेट चोर देना चाहिए’’| जबकि भारत टीम उस वर्ल्ड कप टूर्नामेंट में ग्रुप स्टैग म ही नक़ल गया था|”

उसके बाद गंभीर को 2007 के बांग्लादेश की टीम के खीलाफ़ वापसी किआ और दो सतक बनाए| उसी वर्ष उन्होंने आयरलैंडके खिलाफ नाबाद 80 रन बनाए और MAN OF THE MATCH उन्हें दिया गया |गंभीर को 2007 के परफॉरमेंस को देखते हुए 2007 के टी-20 वर्ल्ड कप में उन्हें मौका दिया गया| और उसी वर्ल्ड कप जो साउथ अफ्रीका में खेला जाना था पाकितान के विरुद्ध फाइनल मैच में 75 रन बनाए 54 गेंदों में और उस टूर्नामेंट में 227 रन 37.83 की औसत से रन बनाए|

Through ranks Of Gautam Gambhir

2009 में उन्हें ICC Test Player of the Year घोषित किआ गया और, ICC rankings में जुलाई के महीने में  No. 1 बैट्समैन कमें उसका नाम घोषित किआ गया|जबकि उस टाइम टीम भारतउस वक्त कोई टेस्ट मैच नहीं खेली थी|

चिट्टागोंगमें 2009 में बांग्लादेश के खिलाफ पहले टेस्ट में गौती ने अपना 5th सतक 116 रन 129 गेंदों में बनाए,अपने 29वे मैच में बांग्लादेश के खिलाफ लगातार 11  अर्धसतक बनाने काले खिलारी बने| उन्होंने उस मैच में 66 रनों की पारी खेली|

t-captaincy

CRICKET WORLD CUP 2011 के फाइनल में गंभीर ने 97 रनों का महत्वपूर्ण पारी खेली थी,जो भारत के जित में एक अहम् योगदान दिया था,उन्होंने 97 रन 122 गेंदों में किए थे,सहवाग के आउट होने के बाद वो उतरे बात करने और धोनी के अथ क महत्वपूर्ण मैच विनिंग पारी खेली थी और दोनों ने मिल के 109 रनों की सझेअरी किआ था | लेकिन उस मैच में MS DHONI ने भी 93 रनों की पारी खेली थी और गौतम के पारी को उतना महत्वा नहीं मिला जितना उन्हें मिलना चाहिए था|.

Retirement

GAUTAM GAMBHIR THE UN-RECOGNISED HERO OF WORDCUP 2011/ जाने 2021 में?

Indian President Ram Nath Kovind presenting the Padma Shri Award to Gautam Gambhir on 16 March 2019

गंभीर ने अपनी क्रिकेट करियर को खतम करते हुए 3 दिसम्बर 2018 को अपना retirementघोषित कर दिया रणजी मैच के फाइनल के पहले दिन जो मैच आंध्र क्रिकेट टीम के विरुद्ध थे| गंभीर ने अपने अंतिम और फाइनल मैच में 112 रनों की पारी खेली और FIRST-CLASS CRICKET में अपना 43rd सतक जरा| उन्होंने क्रिकेट को अलविदा कहने के बाद 17 जून 2019 को बीजेपी के उमीदवार क तरफ से MP(MEMBER OF PARLIAMENT)की सपथ ली

Gautam Gambhir Foundation

The Gautam Gambhir Foundation एक philanthropic initiative है Gautam Gambhir के तरफ से| इसकी सुरुवात 2014 में की गई थी,लेकिन जब इसकी सुरुवात की गई थी तो दिल्ली के बहार सुरु किआ गया था| 2017 में दिल्ली के पटेल नगर में इस फाउंडेशन को स्थापित किआ गया था| इस foundation का मतलब था की दिल्ली के सहरो में कोई भी आदमी भूका न सोए रत को|. इस foundation क कम ये भी है की हमारे देश के सहीद वीर जवान के बच्चो को जिनकी उनको जरुरत है उनको सम्पूर्ण सिच्छा दिलाई जाए, और अच्छे खाने(nutrition) के प्रति जागरूक किआ जाए

Politics Career Of Gautam Gambhir

22 March 2019 को गौतम गंभीर ने BJP (BHARATIYA JANATA PARTY) में सामिल हुए यूनियन मंत्री श्री अरुण जेटली  और रवि शंकर प्रसाद के द्वरा| गौतम को आश्र्ट्डीळ्ळी से पार्टी का कैंडिडेट बनाया गया 2019 के GENRAL ELECTION में| और गौतम ने 6,95,109 वोटो से विजई हुए और अपने प्रतिद्वंदी ARVINDAR SINGH LOVELY और ATSHI MARLENA को हराया|  

WHAT MAKES GAUTAM GAMBHIR DIFFRENT FROM OTHERS:

गंभीर की COMPETITVNESS उसे दुसरो से अलग बनाती है वो जब भी मैदान में खेलने के उतारते है हमसे जितने के मकसद से उतरते है ये उन्होंने कहा है| उनका मानना है की हमें भारत की जर्सी मिलती है ताकि भारत  हर मैच जीते और हमारा कर्तव्य है की हम हर मैच जितने के उद्देश्य से जाए|

CAN GAUTAM GAMBHIR MAKES COMEBACK TO TE INDIAN NATIONAL CRICKET TEAM:

जी नहीं, अभी तक उन्होंने एसी कोई भी बात नहीं की है जिससे ये लगे की वो वापिस COMEBACK करना चाहते है, हलाकि अब तो वह MP  भी बन चुके है| अगर कोई चेरिटी मैच हो तो वो भले ही खेल ले लेकिन भारतीय जर्सी में नहीं दिखेंगे|

WHAT ARE SOME OF THE BEST  STORIES ABOUT GAUTAM GAMBHIR?

ऐसे तो गंभीर ने बहुत सारे ऐसे कीर्तिमान किए है जो भारतीय दर्सको के दिलो में है जैसे की 2007वर्ल्ड कप टी-20 में 75 रनों की पारी खेलना या फिर 97 रनों की 2011 वर्ल्ड कप की पारी खलना हो, लेकिन उसमे सबसे यादगार लम्हों में से एक लम्हा है पाकिस्तान के सहीद अफरीदी के साथ नोकझोक होना और कामरान अकमल के साथ झगरा करना|

उम्मीद है दोस्तों अपलोगो को ये ब्लॉग में महत्वा मिला होगा और आपको पूरी जानकारी मिलेगी|अगर आपको हमारे पोस्ट अच्छा लगा क्यों कृपया इसे फेसबुक इंस्टाग्राम टि्वटर लिंकडइन व्हाट्सएप में शेयर जरूर करें एवं अगर आप किसी प्रकार का सुझाव हमें देना चाहते हैं तो कमेंट बॉक्स में कमेंट जरुर करें

यदि आप hindimetrnd.in के साथ जुड़ना चाहते हैं तो कृपया हमारे फेसबुक पेज को लाइक करना ना भूलें hindimetrnd/facebookpage

धन्यवाद

ये भी पढ़े:ये भी पढ़े

Leave a Comment